Saturday, July 2, 2022

चेहरे पे पिंपल्स आने के कारन और उपाय

जरुर पढ़े

आजकल की भागदौड भरी जिंदगी मे हम अक्सर खुद के ऊपर ध्यान देना भूल जाते हैं. धूल मिट्टी प्रदूषण इस कारण चेहरे पर पिंपल दाग धब्बे आने की समस्या होती रहती है पिंपल्स की वजह से चेहरा विद्रूप दिखने लगता है ! आजकल सभी को सुंदर दिखना होता है ! और उस पर अगर चेहरे पर पिंपल्स या दाग आ जाए तो चेहरा बहुत खराब दिखता है ! अब आज हम देखेंगे की चेहरे पे पिंपल्स आने के  समस्या से छुटकारा कैसे पाया जाए ? चलो तो फिर दोस्तों पिंपल से छुटकारा पाने के लिए हम क्या उपाय कर सकते हैं ।

पिंपल आने के कारण-

चेहरे पर पिंपल आने के बहुत से कारण हो सकते हैं. जैसे कि प्रदूषण धुल मिट्टी और धूप इत्यादि. मानवीय त्वचा छोटे-छोटे छिद्रों से बनी होती है. जिससे हमारी त्वचा  श्वास लेती है.  परंतु उस त्वचा में अगर मिट्टी पसीना आदि जैसे घटक चले जाए तो वह रोम छिद्र बंद हो जाते हैं.  जिस कारण हमारी त्वचा स्वास्थ नहीं रहती और उस पर पिंपल और दाग धब्बे आ जाते हैं. चेहरे पर पिंपल आने के और कौन-कौन से घटक है आगे देखते हैं ।

१.हार्मोनल फॅक्टर-

हार्मोनल फैक्टर से पिंपल्स की उत्पत्ति होती है परंतु उसका मुख्य कारण एंड्रोजन स्तर मे वृद्धी होना है. एंड्रोजन एक हार्मोन है, जो किशोरावस्था में बढ़ता है और महिलाओं में यह एस्ट्रोजन में परिवर्तित हो जाता है. इस कारण महिलाओं के त्वचा के नीचे तैलीय ग्रंथियां बढ़ जाती है और वह चेहरे पर होने वाले रोम छिद्रों को बंद कर देती है जिससे हमारे चेहरे पर बैक्टीरिया बढ़ सकते हैं और इसी कारण हमें पिंपल किशोरावस्था में ज्यादा आते हैं !

२.अन्य संभावित फॅक्टर-

शास्त्रज्ञ ओके अध्ययन से पता चलता है कि कुछ लोगों को अनुवांशिक कारण से भी पिंपल चाहते हैं और यह चेहरे पर पिंपल आने का मुख्य कारण हो सकता है । इसलिये अन्य संभावित फॅक्टर भी ध्यान मी लेने चाहिये.

 

पिंपल आने के अन्य कारण :

  • दवाइयों का सेवन जिसमें लिथियम और एंड्रोजन आदि पदार्थ होते हैं ।
  • केमिकल युक्त सौंदर्य प्रसाधनों का वापर
  • हार्मोनल इंबैलेंस
  • तनावपूर्ण जीवन शैली
  • माहवारी (periods or menstruation)
  • चेहरे पर तेल ग्रंथि ज्यादा होना और चेहरा अस्वच्छ होना

चेहरे पर पिंपल ठीक होने के लिए इलाज –

चेहरे पर पिंपल्स हो तो उस पर उपचार किया जा सकता है परंतु वह पिंपल कितने गंभीर हैं और कितने लगातार हो रहे हैं उस पर उपचार कि गहराई निर्भर है! जल पाउडर क्रीम लोशन इत्यादि का यूज हम करके चेहरे पर होने वाले पिंपल्स का इलाज कर सकते हैं ! परंतु बच्चा अगर संवेदनशील हो तो उस पर ध्यान रख के ही इलाज करना बेहतर होता है ! अल्कोहल से मिश्रित लोशन या जेल त्वचा को ड्राई रखते हैं जिस कारण तैलीय त्वचा से हमें छुटकारा मिल सकता है !

१.ऍपल साइडर व्हिनेगर :

अगर आपके चेहरे पर वारंवार पिंपल्स आ रहे हैं ! तो उसका इलाज हम एप्पल साइडर विनेगर से कर सकते हैं ! एप्पल साइडर विनेगर में लैक्टिक एसिड होता है. जो चेहरे पर आने वाले पिंपल्स के निशान ऊपर बहुत लाभदाई होता है एप्पल साइडर विनेगर के यूज करने से मुहासे जाने में मदद हो सकती है !

एप्पल साइडर विनेगर यूज करते वक्त उसमें एक भाग पानी और एक भाग एप्पल साइडर विनेगर मिलाएं और कॉटन बॉल की मदद से उसे अपने चेहरे पर धीरे-धीरे लगाएं. एप्पल साइडर विनेगर रोम छिद्र ओके अंत तक जाना चाहिए जिसके वजह से आपका चेहरा क्लींजिंग हो जाएगा और रोम छिद्र खुलने लगेंगे और पिंपल्स भी कम हो जाएंगे एप्पल साइडर विनेगर और पानी का मिश्रण चेहरे पर 5 से  20 सेकंड तक रहने दे.और सिर्फ अपना चेहरा धो लें एप्पल साइडर विनेगर का यूज़ लगातार हफ्ते में दो-तीन बारी चेहरे पर करने से पिंपल्स और पिंपल्स के दाग चले जाएंगे.

  1. जिंक सप्लीमेंट ले :

जिंक हमारे चेहरे को लगने वाले पोषक तत्व देता है. जिससे हमारे चेहरे पर होने वाले हार्मोन उत्पादन और हमारे शरीर की चयापचय की क्रिया को अच्छे से कार्यरत रखता है. जिस वजह से हमारे चेहरे पर तैलीय ग्रंथियां उत्पन्न नहीं होती और हमारा चेहरा रंग रूप साफ रहता है !

३. चेहरे पर खीरे का फेस मास्क लगाए –

अगर आप के चेहरे पर बारंबार पिंपल्स आ रहे हैं. तो उस पर खीरे का इस्तेमाल करना उचित रहेगा क्योंकि वास्तविकता में खीरा यह कूलिंग देता है. जिस वजह से हमारा चेहरा और त्वचा कोमल रहने में मदद होती है. एक हीरे को किस कर उसका लगदा अपने चेहरे पर लगाकर 15 से 20 मिनट तक रहने दे. उसके बाद वह सूखने पर ठंडे पानी से धो लें यह प्रक्रिया हफ्ते में चार पांच बार करने से चेहरे पर होने वाले पिंपल से छुटकारा मिल जाएगा. खीरे को अगर हम हमारे रोज के खाने में ले तो उससे भी बहुत फायदा होता है. खीरे से हम डिटॉक्स ड्रिंक भी बना सकते हैं. उसके लिए एक पूरे खीरे को मैच कर ले और उसमें एक बड़ा चम्मच नींबू का रस और पुदीना के पत्ते डालकर आधे घंटे तक रहने दे. उसके बाद यह पानी आप दिनभर पिए इससे आपका शरीर क्लीन हो जाएगा. और त्वचा भी हाइड्रेटेड रहेंगी. तो खीरे का उपयोग हम पिंपल की समस्या दूर करने के लिए यूज कर सकते हैं.

४. चेहरे पर सिंपल हनी मास्क लगाइए-

शायद में मूलतः एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टी होती है. जिससे शरीर पर होने वाले घाव संक्रमण आदि का समाधान हो सकता है. अगर आपके चेहरे पर बारंबार पिंपल से आ रहे हैं तो, शहद का मास्क अपने चेहरे पर लगाएं सबसे पहले अपना चेहरा ठंडे पानी से धो लें. उसके बाद चेहरे पर शुद्ध शहद लगाए इस मास्क को अपने चेहरे पर 10 मिनट तक लगाकर रखें. उसके बाद ठंडे पानी से या फिर गीले कॉटन बॉल से साफ कर ले इससे आपकी त्वचा मुलायम हो जाएंगे. और पिंपल से होने वाली जलन से आराम मिलेगा.

५. ऑयली त्वचा के लिए ईस्ट दही का मास्क

दही में मूल्य तथा प्रोबायोटिक होते हैं. जिसकी वजह से चेहरे पर होने वाले एक्ने जा सकते हैं जैसे किण्वित डेयरी उत्पादने त्वचा का स्वास्थ्य बढ़ा सकते हैं. अगर आपको चेहरे पर पिंपल है और आप उससे छुटकारा पाना चाहते हैं. तो दही और ईस्ट का मास्क चेहरे पर जरूर लगाएं . मास्क बनाने के लिए एक छोटी कटोरी दही में 1 टीस्पून ब्रेवर ईस्ट मिलाएं और अपने चेहरे पर जहां-जहां पिंपल्स हो गए हैं उस पर धीरे धीरे से लगा ले. और 15  20 मिनट तक चेहरे पर रहने दे उसके बाद ठंडे पानी से धो ले. इस उपाय से चेहरा स्वच्छ हो जाता है और पिंपल्स के लिए लाभकारी रहता है.

६. चेहरे का ओटमील फेशियल जरूर करें-

ओटमील में हाइड्रेटिंग गुण होता है. जो त्वचा संबंधी बीमारियों से जैसे कि एग्जिमा खुजली जलन इत्यादि उसे राहत देता है. इसलिए ओटमील मुहासे का इलाज करने के लिए विशेषता प्रभावी होता है ओटमील फेशियल करने के बाद त्वचा पर होने वाले सूजन और खुर्दअरे पन से राहत मिलती है. ओटमील फेशियल करने के लिए 2 टेबलस्पून ओटमील में 1 टीस्पून बेकिंग सोडा और पर्याप्त पानी मिलाएं उससे एक गाढ़ा पेस्ट बन जाएगा वह गाढ़ा और चिकना पेस्ट अपने पूरे चेहरे पर धीरे धीरे से रगड़ ले और फिर अच्छी तरह से धो लें. इस वजह से इन पिंपल्स आना कम हो जाएगा.

७. चेहरे पर हल्दी का मास्क लगाएं –

पुरातन काल से भारतीय महिलाएं चेहरे पर हल्दी का मास्क लगाते आ रही है. खूबसूरत त्वचा के लिए हल्दी का उपयोग किया जाता है. इसमें एंटी इन्फ्लेमेटरी और एंटी ऑक्सीडेंट गुण होते हैं. जिस वजह से चेहरे पर आने वाले पिंपल दाग धब्बे जा सकते हैं. हल्दी जख्मों को भी भर देती है. इसलिए अगर हम इसका इसका इस्तेमाल चेहरे पर करें तो चेहरा और अपना रंग निखर जाएगा जिससे आपका सुंदर दिखने का सपना पूरा हो सकता है. हल्दी का मास्क बनाने के लिए आधा कब बेसन में दो चम्मच हल्दी पाउडर मिलाएं उसमें थोड़ा सा चंदन पाउडर और दीया बदाम का तेल मिलाएं फिर उसमें पानी मिलाकर स्गाढ़ा पेस्ट बना लें. यह पेस्ट अपने चेहरे पर लगा ले और रहने दे चेहरा सूखने के बाद हथेली और उंगलियों से दबाकर चेहरे को मालिश कर दे. और चेहरा साफ धुले आपकी त्वचा निखर जाएगी और पिंपल्स की परेशानियों से छुटकारा मिल जाएगा.

८. चेहरे पर टी- ट्री ऑईल इस्तेमाल करें –

टी ट्री ऑयल में प्राकृतिक एंटी इन्फ्लेमेटरी तत्व होती है, जो पिंपल्स का कारण होने वाले बैक्टीरिया का खात्मा करती है. इसलिए टी ट्री का यूज करना लाभदायक होता है. टी ट्री ऑयल पिंपल से होने वाली सूजन और लाली को कम करता है. अगर आपको पिंपल से छुटकारा पाना है तो एलोवेरा जेल या क्रीम में टी ट्री ऑयल मिलाकर नियमित रूप से अपने चेहरे पर लगाएं. ऐसा करने से आपके चेहरे पर होने वाले पिंपल्स चले जाएंगे और त्वचा का खुर्दरे बना भी चला जाएगा. आज हमने त्वचा पर होने वाले पिंपल्स का कारण एवं उस पर कर सकने वाले उपाय देखें निश्चित रूप से आपको इसका फायदा जरूर होगा आशा करते हैं कि आपको यह जानकारी अच्छी लगी सुझाव के लिए कमेंट जरुर करें

धन्यवाद !

 

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

error: Content is protected !!