Saturday, December 10, 2022

यहाँ क्या होता है यदि आप अपने दाँत ब्रश करना बंद कर देते हैं?

जरुर पढ़े

यहाँ क्या होता है यदि आप अपने दाँत ब्रश करना बंद कर देते हैं? स्ट्रेप्टोकोकस म्यूटन्स यह एक जीवाणु है। जो अपने रूममेट्स के साथ आपके मुँह में रहता है। घबराए मत यह हर इंसान के लिए एक आम बात है। आपका मुँह उनका घर होता है।

दांतो में बैक्टीरिया

आपके रोजके खाने में अगर आप शक्कर और प्रोटीन की मात्रा कम देते है तोह यह मरने लगते है, पर मरने से पहले वह सब आपके मुँह में उलटी करते है।  जिस वजह से आपके दांत पिले पड़ने लगते है। नतीजन आपका मुँह बायोफिल्म नामक बैक्टीरिया से ग्रस्त होता है।

अब, एक छोटी सी बायोफिल्म आपको या फिर आपके दांतों को चोट नहीं पहुँचाने वाली है। यह केवल तभी होता है जब आप इसे दूर करना बंद कर देते हैं। और फिर चीजें बदसूरत हो सकती हैं। और न केवल आपके दांतों के लिए पर आपके मसूड़ों के लिए भी यह बहोत ख़राब होता है।

ऐसा ही होता है कि स्ट्रेप और उसके दोस्त आपके जीवन के लिए एक सर्वथा खतरा हैं। लगभग आधे इंसान अपने दांतों को पर्याप्त रूप से ब्रश नहीं करते हैं। और फिर जब भी आप किसी पार्टी में भोजन करने जाते है, तो आप उस पार्टी में कई बैक्टीरिया को भी आमंत्रित करते हैं। अपनी गमलाइन पर रहने वालो को भी।

जो आपके मसूड़ों में जलन और सूजन पैदा करते हैं। जिससे मसूड़े नरम हो जाते है और रक्तस्राव होता है। लेकिन यह अभी शुरुआत है। जल्द ही, वह संक्रमण आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को ट्रिगर करेगा जो बैक्टीरिया से लड़ने के लिए लड़ाकू कोशिकाओं को भेजता है।

यह बैक्टीरिया के लिए शत्रुतापूर्ण वातावरण बनाता है। जो आप चाहते हैं। लेकिन यह आस-पास के ऊतक और हड्डी के अच्छी कोशिकाओं को भी नुकसान पहुंचा सकता है।

मसूड़ों में परेशानी

लगभग छह महीने से १ साल के बाद वह ऊतक और हड्डी अंततः मर जाएगी। इस बिंदु पर, आपको अब मसूड़े की सूजन नहीं है। लेकिन इसके बाद कुछ और भी बुरा है: पीरियडोंन्टल बीमारी।

कोई और ऊतक और हड्डी का मतलब कोई और संरचनात्मक समर्थन आपके मुँह में नहीं है। तो, आपके मसूड़े आपके दांतों से अलग हो जाते हैं। आपके दांतो और मसूड़ों में दुरी बनाते हैं जो जल्दी से स्ट्रेप और उसके दोस्तों को रहने लायक अतिरिक्त जगह प्रदान करते हैं।

जो आगे चलकर आपके मसूड़ों को संक्रमित कर देता है, जिससे आपके दांत बाहर गिर जाते हैं।

अब, आप सोच सकते हैं कि आपके साथ ऐसा कभी नहीं हो सकता है, लेकिन ५०-६४ की आयु वर्ग के लगभग १०% इंसानो ने एक नहीं, दो नहीं, बल्कि अपने सभी दांत खो दिए हैं।

अब, मामले को और बदतर बनाने के लिए, स्ट्रेप और उसके दोस्त आपके रक्त प्रवाह में प्रवेश कर सकते हैं जहां वे आपके अंगों पर भी कहर बरपाएंगे।

उदाहरण के लिए, एक अध्ययन में, स्वस्थ मसूड़ों वाले लोगों की तुलना में पीरियडोंटल बीमारी वाले लोगों में क्रोनिक किडनी रोग होने की संभावना साढ़े चार गुना अधिक थी। और एक अन्य अध्ययन में पाया गया कि एक सेवानिवृत्ति समुदाय के लोग जो रोजाना अपने दाँत ब्रश नहीं करते थे, उनमें मनोभ्रंश का जोखिम ६५ % अधिक था।

यहाँ क्या होता है यदि आप अपने दाँत ब्रश करना बंद कर देते हैं?
यहाँ क्या होता है यदि आप अपने दाँत ब्रश करना बंद कर देते हैं?

मुंह के अंदर स्वछता ना होने के कारण कैंसर विकसित होने का खतरा बढ़ जाता है।  तो इस जोखिम को कम करने के लिए अपने मुंह की और दांतो की स्वछता करना बहुत जरूरी होता है।  हर रोज दो बार ब्रश करने से आप इस ख़तरे को बहुत हद तक टाल सकते हो।

अपने दाँतों को हर दिन ब्रश करें।  ब्रश करना आप के पुरे दिन में से सिर्फ ४ मिनट ही लेता है।

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article