Saturday, December 10, 2022

दाढ़ निकलने पर केअर कैसे करे

जरुर पढ़े

नमस्कार दोस्तों । फ्री सिंपलीफाइड इंफॉर्मेशन वेबसाइट में आप सभी का हम स्वागत करते हैं । आज हम आपको हमारे इस आर्टिकल में दाढ निकालने पर केयर कैसे करें ये देख रहे है ,ओर इससे जुड़ी जानकारी बताने वाले हैं । पिछले दांतों का दर्द जब होता है तब ज्यादातर मामलों में वो अकल दांत निकालने का सबसे आम संकेत है। वे आमतौर पर तब निकाले जाते हैं जब वे या तो पहले से ही प्ख़राब होते हैं या वे इनफेक्ट हो जाते हैं और उसमे खाना फसता है अगर बताने पर भी आपके दांत नहीं निकाले जाते हैं, तो इससे बार-बार इन्फेक्शन हो सकता है और दीर्घकालिक मेडिकल कॉम्प्लिकेशन हो सकती हैं। नतीजतन, आपके शेष स्वस्थ दांतों में इन्फेक्शन हो सकता है और आप अनेक मौखिक रोगों से पीड़ित हो सकते हैं।

आपका दंत चिकित्सक कब दाढ निकालने का सुझाव देता है?

दांत निकालने की प्लानिंग और उसकी तैयारी करना महत्वपूर्ण है।तीव्र दर्द और सूजन को कम करने के लिए आपके दंत चिकित्सक आपको एंटीबायोटिक देता है।

तत्काल दाढ निकालना :

तीव्र दाढ दर्द के कारण आपको तुरंत दांत निकालने की आवश्यकता हो सकती है। पस के कारण विकसित गंभीर सूजन संबंधी कॉम्प्लिकेशन के लिए तुरंत दांत निकालना एकमात्र विकल्प होता है.

दांत निकालने को स्थगित करना :

आपका दंत चिकित्सक तीव्र इन्फेक्शन के मामले में दांत निकालने को स्थगित करने का सुझाव देता है। जब रोगी का सामान्य स्वास्थ्य खराब होता है जैसे डायबिटीज़, उच्च रक्तचाप, तो दंत चिकित्सक सर्जरी को स्थगित कर दे सकता है ताकि दांत निकलने से पहले मरीज का स्वास्थ्य ठीक हो जाए। दात निकलने से पहले आपको एंटीबायोटिक उपचार की आवश्यकता होती है।

दाढ निकालने के चिकित्सीय संकेत :

दांत निकालने के चिकित्सीय संकेत दिए गए हैं।

  • आपके दाढ जड़ों से हिल रहे हो तो निकला जा सकते है।
  • पेरीओडोन्टल बीमारी ने आपके दांतों को खराब कर दिया है।
  • जब पेरी-एपिकल इंफेक्शन के कारण दांतों को एंडोडॉन्टिक ट्रीटमेंट से बचाया नही जा सकता है ।
  • चेहरे के एक्सिडेंट से आपके दांत टूट गए हो और उन्हें ठीक नहीं किया जा सकता है।
  • आपको क्राउडिंग या स्पेसिंग की समस्या है (दूध और स्थायी दांतों दोनों के लिए)
  • आपके दंत चिकित्सक को प्रोस्थोडोंटिक उपचार स्पेस रखने की आवश्यकता है।
  • ट्यूमर सर्जरी के दौरान, इन्फेक्शन के स्थिति में स्थित किसी भी दांत को निकाला जाएगा।

पोस्ट-ऑपरेटिव केयर (दांत निकलने के बाद केअर)-

दाढ निकालने के बाद, रक्तस्राव को रोकने और उपचार प्रक्रिया शुरू करने के लिए रक्त का थक्का बनना महत्वपूर्ण होता है। इसलिए आपको अपॉइंटमेंट के बाद 45 मिनट के लिए गॉज पैक पर चबाने के लिए कहते हैं। इसकी वजह से खून रुक जाता है

  • सर्जरी के 24 घंटे बाद तक कुल्ला न करे।
  • सर्जरी के 24 घंटे बाद तक न थूंके।
  • अपनी उंगलियों और जीभ को सॉकेट या दांत निकले हुए सर्जिकल क्षेत्र से दूर रखें।
  • पहले 48 घंटों के लिए दांत निकले हुए जगह पर (चेहरे के किनारे) पर आइस पैक या बर्फ लगाए।
  • थोड़ा तकलीफ होती है तो, जेरोडोल टैबलेट या केटेरोल डीटी को हर ६ घंटे में लें।
  • गंभीर दर्द के लिए, आपको डॉक्टर द्वारा बताई गई दवा का उपयोग करें
  • लिक्विड पदार्थ का खूब सेवन करें। (स्ट्रॉ का उपयोग न करें- इससे मुंह में सक्शन पैदा होता है जिससे ब्लड क्लॉट नही बन सकता और जख्म नही भर सकता।).
  • सर्जरी के बाद कम से कम 5 दिनों तक धूम्रपान न करें।
  • सर्जरी के बाद दारू न पिए।
  • जभागदौड़ वाले काम न करे और सर्जरी के बाद कम से कम 3-4 दिनों तक व्यायाम न करें।
  • सर्जरी के बाद विक्स, बाम या किसी भी गरम चीज़ का प्रयोग न करे।
  • किसी भी गरम चीज़ से ना सेके।
  • ऑपरेशन दूसरे दिन से एक सप्ताह के लिए नमक के गर्म पानी से कुल्ला करें ताकि भोजन के कणों को बाहर निकाला जा सके। (एक गिलास गर्म पानी में आधा चम्मच नमक मिलाएं। कभी कभी माउथवॉश मिला सकते हैं।)
  • आपके आहार में मुख्य रूप से नरम, आसानी से निगलने वाले खाद्य पदार्थ और ठंडे पेय को शामिल करे। दांतो मे फसने वाली चीज़ों न खाए इसलिए बीज, नट्स, चावल, पॉपकॉर्न या इसी तरह के चिपकने वाले खाद्य पदार्थ न खाएं।
  • बैक्टीरिया को रोकने के लिए और उपचार ठीक से करने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप अपना मुंह साफ रखें। लेकिन जोर से कुल्ला न करें।
  • सर्जरी के बाद दूसरे दिन से भोजन के बाद और सोते समय मुलायम वाले टूथब्रश और टूथपेस्ट का प्रयोग करें।
  • पहले 24 घंटों के लिए आपको आराम करना चाहिए। 24 घंटों के बाद, आप आपको सहन होता है वैसे गतिविधि फिर से शुरू कर सकते हैं।
  • कभी कभी सांसों की दुर्गंध आ सकती है और उपचार होते ही गायब हो जाती है। सर्जरी के दो से तीन व्हाइट या एलो कोटिंग दिखाई दे सकती है ये जख्म भरने के लक्षण है।
  • जख्म को भरने में 6-8 सप्ताह लग सकते हैं।
  • टांके अपने आप से पिघलने वाले भी होते है या निकालनेवाले भी हो सकते है। सर्जरी के ७दिन बाद टांके निकले जाते है।
  • यदि कोई एंटीबायोटिक दिया है, तो निर्देशानुसार गोलियां ले। बैक्टिरियल संक्रमण को रोकने में मदद के लिए एंटीबायोटिक्स दी जाती हैं।
  • पीने और खाने के लिए खाद्य पदार्थ जब एनेस्थीसिया का असर रहता है ।

पीना:

  1. पानी
  2. रस
  3. बर्फ के टुकड़े
  4. पॉप्सिकल्स

खाना:

  1. आइसक्रीम
  2. पुडिंग
  3. दही
  4. मिल्कशेक (स्ट्रॉ के बिना)
  5. नरम खाद्य पदार्थ खाए जब एनेस्थीसिया का असर दूर हो जाता है
  6. भरता
  7. अंडे
  8. पेनकेक्स
  9. सूप (सावधान रहें- ज्यादा गर्म नहीं)
  10. खिचड़ी
  11. दलिया
  12. दाल चावल
  13. लापसी
  14. हलवा

आशा करते है आपको यह आर्टिकल पसंद आये, दाढ निकलनेके बाद केअर करे. ओर जाणकारी एव सुझाव के लिये कॉमेंट करे.

 

धन्यवाद !

 

 

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article