Friday, July 1, 2022

दाढ़ दर्द पर स्वागत तोड़कर ईनके उपाय

जरुर पढ़े

नमस्कार दोस्तों । फ्री सिंपलीफाइड इंफॉर्मेशन वेबसाइट में आप सभी का हम स्वागत करते हैं । आज हम आपको हमारे इस आर्टिकल में दाढ़ दर्द पर स्वागत तोडकर जी के उपाय देखने वाले है ,इससे जुड़ी जानकारी बताने वाले हैं । दोस्तों हम सबको कभी कभी इस परेशानी का सामना करना पडा है। दाढ का दर्द का बहोत कारण हो सकते है. दांतों की सही देखभाल न करने से दांत दर्द जैसी समस्या हो सकती है।

दांतों की देखभाल कैसे करें :-

1. हर बार खाने के बाद मुंह अच्छेसे धो लें।

2. सुबह और रात को सोने से पहले अपने दांतों को ब्रश करें।

3. जितना हो सके ठंडे, गर्म और कठोर खाद्य पदार्थों को न खाए।

4. बच्चों को बहुत अधिक मिठाई और चॉकलेट के साथ-साथ बहुत ठंडे खाद्य पदार्थ न दे और उन्हें नियमित रूप से अपने दाँत ब्रश करने के लिए कहें।

दाढ़ दर्द के लिए सरल उपाय:

तुलसी :

तुलसी के ५ से १० पत्ते धोकर, पीसकर रस बना लीजिये और इसमें कपूर की ३ से ४ छड़ियां मिला दीजिये. इस मिश्रण में ३ से ४ छोटे रुई के गोले भिगोकर दर्द वाले दांत पर लगाने से दांत का दर्द कम होता है।

लौंग का तेल :

लौंग के तेल को दर्द के जगह पर लगाये क्योंकि लौंग में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं और इस वजह से ये कैविटी रोकने में मदद करता है। और इसमें दाढ दर्द कम होता है.

लहसुन –

मुंह के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए लहसुन मददगार है। कच्चा लहसुन कैविटी पर दबाइए इससे दाढ़ दर्द में मदद होती है। खाली पेट रोज सुबह लहसुन की कली को जरूर खाना चाहिए.

नींबू –

नींबू में साइट्रिक एसिड होता है जो दर्द को कम करने में मदद करता है। आप कुछ मिनट के लिए नींबू के टुकड़े को चबाए और बाद में पानी से अपना मुंह धो ले।

अमरूद के पत्ते –

अमरूद के पत्तों में एंटीबैक्टीरियल गुण होते है , इससे दांतों की कैविटी काम होती है। आप अमरूद के पत्तों को चबाते हैं या उबलते पानी में कुचले हुए पत्ते डालकर उस पानी का उपयोग कर रहे है.

हरी चाय के बैग्स –

ग्रीन टी मुंह में प्लाक प्रोडक्शन को कम करती है। ग्रीन टी में नींबू का रस और शहद मिलाएं और बेहतर परिणाम के लिए गर्म ग्रीन टी का सेवन करिए.

खारा पानी –

गर्म पानी में नमक मिलाकर मुंह से गरारे करें और इसे दो से तीन बार दिन में दोहराए। नमक का पानी दांतों से प्लाक दूर करता है।

अंडे का चिलका –

अंडे का छिलका दांतों की सारी सड़न को दूर करने में मदद करता है। अंडे के छिलकों को कुछ मिनट के लिए उबालिए और फिर इसे सुखाइए। फिर इसे अच्छी तरह से पीस लीजिए ओर पेस्ट बनाने के लिए इसमें बेकिंग सोडा मिलाएं। पेस्ट को अपने नॉर्मल टूथपेस्ट के बिना भी इस्तेमाल कर सकते है।

हाइड्रोजन पेरोक्साइड कुल्ला करे –

हाइड्रोजन पेरोक्साइड से कुल्ला करने से भी दर्द और सूजन को दूर करने में मदद करता है। हाइड्रोजन पेरोक्साइड बैक्टीरिया को कम करता है और प्लाक को भी कम करती है और मसूड़ों के रक्सत्रव को ठीक कर सकता है. हाइड्रोजन पैरोक्साइड को अच्छेसे डाइल्यूट करे। डाइल्यूट करने के लिए, 3 %हाइड्रोजन पेरोक्साइड को बराबर भाग पानी में मिलाएं, और इसे माउथवॉश के रूप में उपयोग करें। इसे निगलें नहीं।

ठंडा सेक –

दाढ़ दर्द को कम करने के लिए ठंडा सेक ले सकते है। जब आप कोल्ड कंप्रेस लगाते हैं, तो इससे उस क्षेत्र की रक्त वाहिकाएं सिकुड़ जाती हैं। इससे दर्द कम होता है। ठंड किसी भी प्रकार के सूजन को कम कर सकती है। दर्द होने वाली जगह पर एक बार में 20 मिनट के लिए बर्फ को लगाए। हर २घंटे में इसे दोहराए।

अजवायन के फूल –

अजवायन के फूल में एंटी बैक्टिरियल और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो दाढ़ दर्द के इलाज में मदद करते हैं। संतो के सड़न पैदा करने वाले कीटाणु को मरता है। अजवायन के तेल को किसी भी अन्य तेल के साथ मिलाकर डाइल्यूट करे। आप इसे पानी में मिलाकर माउथवॉश के तरह भी इस्तेमाल कर सकते है । यदि आपका दाढ़ दर्द गंभीर है या दांतों के नीचे पीप भरा है तो आप तुरंत अपने दंत चिकित्सक को दिखाइए ताकि आप इसका ठीक से इलाज कर सकें.बहुत बार दांतो के सेप्टिक में दंतचिकत्सक की अवश्यकता होती है।

तो हमने आज देखा के दाढ दर्द के बहोत से कारण हैं जो हमने ऊपर देखे, साथ ही मे उसके उपयो के बरे मे भी चर्चा की. हमें उमीद है आपको हमारे इस आर्टिकल से फायदा हुआ होगा.

धन्यवाद् !

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

error: Content is protected !!