वास्तु शास्त्र अनुसार टॉयलेट कैसा होना चाहिए Vastu For Toilet in Hindi

नमस्कार दोस्तों । फ्री सिंपलीफाइड इंफॉर्मेशन वेबसाइट में आप सभी का हम स्वागत करते हैं । आज हम आपको हमारे इस आर्टिकल में वास्तु शास्त्र अनुसार टॉयलेट कैसा होना चाहिए इसके बारे में बताने वाले हैं । दोस्तों जब हम कभी अपना घर पर इनवाइट करते हैं तो हमें घर का इंटीरियर ऐसा बनाना चाहिए जो वास्तु दोष मुक्त हो । ज्यादातर सभी लोग घर के सभी जगहों का जैसे हॉल बेडरूम मंदिर और यहां तक घर का मुख्य दरवाजा भी वास्तु अनुसार हो, ऐसा बनाते हैं । कई बार लोग टॉयलेट को वास्तु अनुसार बनाने में भूल जाते हैं या टॉयलेट को हल्के में ले लेते हैं और उसको वास्तु अनुसार नहीं बनाते हैं जिसके चलते उनके घर छोटी बड़ी समस्याएं, पारिवारिक रिश्तो में उलझने, पैसों का तेल ना होना ऐसी समस्याएं देखने को मिल सकती है ।

दोस्तों टॉयलेट हमारे लिए इतना ही महत्वता का है जितना ही घर का डाइनिंग हॉल या किचन । यदि आप अपने घर को वास्तु दोष से मुक्त करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको टॉयलेट को वास्तु शास्त्र अनुसार बनाना चाहिए । आज हम आपको वास्तु शास्त्र अनुसार घर का टॉयलेट कैसा होना चाहिए उसके बारे में बताने वाले हैं । इनमें टॉयलेट की क्या दशा होनी चाहिए, टॉयलेट ड्रेनेज सिस्टम किस जगह होना चाहिए, टॉयलेट की दीवारों का रंग क्या होना चाहिए और यहां तक कमोड भी कहां रखना चाहिए उसके बारे में बताएंगे । तो चलिए दोस्तों जानते हैं की टॉयलेट को वास्तु शास्त्र अनुसार कैसा होना चाहिए ।

Table of Contents

वास्तु शास्त्र अनुसार टॉयलेट कैसा होना चाहिए Vastu For Toilet in Hindi :

वास्तु शास्त्र अनुसार टॉयलेट की दिशा Toilet Direction as per Vastu Shastra :

दोस्तों टॉयलेट की दिशा हमेशा उत्तर या उत्तर पूर्व दिशा में होनी चाहिए । ऐसा होने से आपके घर की सभी नकारात्मक ऊर्जा दूर होगी । सुबह के उजले किरण पूर्व दिशा में आते हैं जिससे टॉयलेट में बसी नेगेटिव एनर्जी का खात्मा होगा । यदि घर पर कोई बीमार रहता है या घर में लड़ाई झगड़ा जैसे माहौल तो वह खुद-ब-खुद दूर हो जाएंगे । इसीलिए हमेशा घर का टॉयलेट उत्तर उत्तर पूर्व दिशा में बनाना चाहिए ।

वास्तु शास्त्र अनुसार टॉयलेट की दीवारें कैसी होनी चाहिए Vastu Guide for Toilet Wall :

दोस्तों वास्तु शास्त्र मुताबिक टॉयलेट की दीवारों का रंग गरीब अथवा तो ब्लैक बिल्कुल नहीं होना चाहिए । इनके अलावा ज्यादा भडक रंग और डार्क रंग के टॉयलेट के दीवार नहीं होने चाहिए । टॉयलेट की दीवारों पर लाइट कलर लगा सकते हैं । सफेद, क्रीम, आइवरि या लाइट पिंक कलर्स टॉयलेट के लिए कलर माने जाते हैं ‌। टॉयलेट में कभी टाइल्स नहीं लगानी चाहिए । 

वास्तु शास्त्र अनुसार टॉयलेट में कमोड कहां रखना चाहिए Vastu Shastra Anusar Toilet ka Kamod Kahan Hona Chahiye :

दोस्तों वास्तु शास्त्र के अनुसार टॉयलेट का कमोड  हमेशा दक्षिण दिशा में होना चाहिए । टॉयलेट की दक्षिण दिशा में कमोड बनाने से आपके घर के सभी परेशानियां मुक्त हो जाएंगे । यदि कोई दूसरे दिशा में कमोड पहले से बना हुआ है तो आपको उसकी जगह बदलनी चाहिए ।

See also  सपने में मक्खन देखना इसका मतलब क्या है? Butter in Dream Meaning

वास्तु शास्त्र अनुसार टॉयलेट में खिड़की कहां होनी चाहिए Vastu Tips for Toilet Window :

दोस्तों वास्तु शास्त्र अनुसार टॉयलेट की खिड़की बड़ी होनी चाहिए और वहां एग्जॉस्ट फैन अवश्य लगाना चाहिए । टॉयलेट में खिड़की की दिशा पूर्व दिशा में होनी चाहिए । ऐसा होने से टॉयलेट में बसी सारी नेगेटिव एनर्जी सूरज की तेज किरणों से खत्म हो सकती है । और घर को सुख शांति और समृद्धि दिलाने में मदद मिलती है ।

वास्तु शास्त्र अनुसार टॉयलेट का दरवाजा कैसा होना चाहिए Vastu tips for Toilet Door In Hindi :

वास्तु शास्त्र नियमों के अनुसार टॉयलेट का दरवाजा बाहर की ओर नहीं खुलना चाहिए । जब भी आप टॉयलेट करने जाए तो टॉयलेट का दरवाजा टॉयलेट की अंदर की ओर खुलना चाहिए । साथ ही टॉयलेट का दरवाजा आपके मेन डोर के दरवाजे से छोटा होना चाहिए । टॉयलेट का दरवाजा कभी खुला नहीं रखना चाहिए । टॉयलेट के दरवाजे के अंदर और बाहर कुंडी अवश्य होनी चाहिए ।

वास्तु शास्त्र अनुसार टॉयलेट का ड्रेनेज सिस्टम किस दिशा में होना चाहिए Toilet Drainage System as per Vastu in Hindi :

दोस्तों वास्तु नियमों अनुसार घर की टॉयलेट की ड्रेनेज सिस्टम दक्षिण दिशा में होनी चाहिए । ऐसा होने से सारी टॉयलेट की नेगेटिव एनर्जी दक्षिण दिशा में भस्म हो जाएगी । आपके घर में सुख शांति और पॉजिटिव एनर्जी बनी रहेगी । इसी कारण आपको टॉयलेट का ड्रेनेज सिस्टम हमेशा दक्षिण दिशा में बनाना चाहिए ।

वास्तु शास्त्र अनुसार टॉयलेट कैसा होना चाहिए कि अन्य जानकारी Vastu Shastra Tips for Toilet in Hindi :

  • टॉयलेट में हमेशा खिड़की होनी चाहिए और उसमें एग्जॉस्ट फैन लगाना चाहिए ।
  • अटैच टॉयलेट बाथरूम कभी नहीं होना चाहिए । यदि आपके घर टॉयलेट और बाथरूम अटैच है तो अटैच टॉयलेट बाथरूम की दिशा उत्तर में होनी चाहिए । अन्यथा आपके घर छोटी बड़ी परेशानी हमेशा रहेगी ।
  • टॉयलेट मैं पड़ी बालधी कभी खाली नहीं रखनी चाहिए । आपको पानी की बकेट हमेशा भरी रखनी चाहिए ।
  • टॉयलेट का दरवाजा कभी खुला नहीं छोड़ना चाहिए । यूज करने के बाद या नॉर्मल समय में भी टॉयलेट का दरवाजा बंद करना चाहिए ।
  • टॉयलेट का दरवाजा कभी खंडित नहीं होना चाहिए । यदि ऐसा है तो आपको उसे फौरन रिपेयर करना चाहिए अन्यथा आपके घर में बीमारी का माहौल हो सकता है ।
  • टॉयलेट में कमोड का ढक्कन हमेशा बंद रखना चाहिए ।
  • टॉयलेट में अच्छी खुशबू वाला परफ्यूम हमेशा रखना चाहिए । 
  • कई लोग समय बचाने के लिए टॉयलेट में ही नहा लेते हैं । तो ऐसा बिल्कुल नहीं करना चाहिए । टॉयलेट में हमें कभी नहाना नहीं चाहिए ।
See also  सपने में क्रश को देखना इसका मतलब क्या है ? Crush in Dream Meaning

यदि आपको वास्तु शास्त्र अनुसार घर का टॉयलेट कैसा होना चाहिए कि टिप्स से फायदा हुआ और आपको टॉयलेट से जुड़े अन्य सवाल है तो आप हमें नीचे कमेंट सेक्शन में बता सकते हैं ।

वास्तु शास्त्र अनुसार तिजोरी कैसी होनी चाहिए Vastu For Tijori

Leave a Comment

error: Content is protected !!