Friday, December 9, 2022

कैसे पहचाने अपनी त्वचा के प्रकार ?

जरुर पढ़े

कैसे पहचाने कौन से प्रकार की है आपकी त्वचा ? त्वचा के विविध रूप होते हैं  जैसे कि सामान्य त्वचा, रूखी त्वचा, तैलीय त्वचा, मिश्रित त्वचा, संवेदनशील त्वचा इत्यादि प्रकार होते हैं। इस प्रकार त्वचा 5 तरह की होती है। इस लेख में हम आपको बताएँगे कि कैसे पहचाने आपकी त्वचा जो कि बहुत जरूरी है उस हिसाब से फिर आप अपनी त्वचा का ध्यान रख सकते हो।

त्वचा इंसान के शरीर की एक मूल्यवान आवरण है जिसकी वजह से त्वचा इंसान को बाहर के वातावरण से संरक्षण करती है। इसीलिए आपको यह जानना बहुत जरूरी है, कि कैसे आप अपनी त्वचा का ध्यान रख सकते हैं। इसके लिए आपको यह पता होना बहुत जरूरी है, की आपकी त्वचा कौन से प्रकार की है।

यदि आपको आपकी त्वचा के प्रकार के बारे में नहीं पता है तो आप उसकी सही तरह से सुरक्षा नहीं कर सकते।

त्वचा के प्रकार क्या होते है ?

त्वचा के प्रकार
त्वचा के प्रकार

अपनी त्वचा को सुंदर दिखने के लिए बहुत लोग सौंदर्य प्रसाधन का उपयोग करते हैं। जो कि बाजार में उपलब्ध है लेकिन हर एक सुंदर प्रसाधन प्रत्येक व्यक्ति को गुण कारक हो यह जरूरी नहीं क्योंकि यदि आपको यह पता ही नहीं है, कि आपकी त्वचा का प्रकार कौन सा है उसके बिना आप कैसे अपनी त्वचा का ध्यान रख सकते हो ? इसके लिए आपको यह जानना जरूरी है कि आपके त्वचा का प्रकार कौन सा है आज हम आपको इस लेख में आपकी त्वचा के प्रकार को कैसे पहचाने यह बताएंगे सामान्य तौर पर 5 तरह की त्वचा होती है।

सामान्य त्वचा :

सामान्य त्वचा
सामान्य त्वचा

सामान्य त्वचा वाले इंसान बहुत ज्यादा नसीब वाले रहते हैं, क्योंकि उनकी त्वचा के ज्यादातर कुछ प्रॉब्लम नहीं होते हैं। उनकी स्क्रीन ना तो ज्यादा रूखी होती है, ना ही उनको तैलीय त्वचा की परेशानी होती है।

सामान्य त्वचा वाले लोगों को ज्यादातर त्वचा की समस्या नहीं होती है। सामान्य त्वचा वाले इंसान को भी त्वचा की परेशानी होती है सामान्य तौर पर इनकी त्वचा चमकीली होती है। और रूखापन नहीं नजर आता है। यह त्वचा की देखभाल बहुत आसानी से कर सकते हैं।

इस त्वचा की खास बात यह है कि यह त्वचा आकर्षित और चमकीली होती है। और इस पर कोई भी रूखापन या पिंपल नहीं होता। सामान्य त्वचा के गुणधर्म है। कि वह चमकीली और दाग रहित और गोरी होती है।

ऑयली त्वचा :

ऑयली त्वचा
ऑयली त्वचा

तैलिया त्वचा पूरे साल तैलिय रहती है। गर्मी में भी और ठंडी में भी चिपचिपा पन पूरे चेहरे पर दिखाई देता है। और इसमें बहुत ज्यादा पसीना भी आता है।

सबसे ज्यादा तैलिय त्वचा वालों को त्वचा की समस्या रहती है क्योंकि, तैलिय त्वचा होने के कारण त्वचा में ब्लैक एड्स, पिंपल्स इत्यादि का प्रमाण ज्यादा होता है।

तैलीय त्वचा वाले इंसान को अपनी त्वचा का बहुत ज्यादा ध्यान रखना पड़ता है। क्योंकि तेलीय त्वचा होने के कारण चेहरे पर हमेशा तेलिय आवरण रहता है। जिसकी वजह से धूल मिट्टी चेहरे पर आसानी से असर करती है।

तेलीय त्वचा वाले इंसानों को दाग मुहासे  ज्यादा  प्रमाण में होते हैं। साधारण: गुनधर्म है कि इस पर चिपचिपा पन और धूल मिट्टी ज्यादा बेटी है जिससे त्वचा में नमी दिखाई देती है।

रूखी त्वचा :

रूखी त्वचा
रूखी त्वचा (त्वचा के प्रकार)

रूखी त्वचा ज्यादातर खिंचाव महसूस होता है, और यह त्वचा सर्दियों में बहुत ज्यादा रुखी पड़ जाती है। रूखी त्वचा की चमक भी चली जाती है। और इसमें रुखा पन होने की वजह से जलन भी महसूस होती है। त्वचा की नमी भी चली जाती है।

इसतरह की त्वचा का ज्यादा ध्यान रखना पड़ता है। ज्यादा करके सर्दियों में रूखी त्वचा वाले इंसानों को ज्यादा ध्यान रखना पड़ता है, क्योंकि त्वचा में  रूखापन पहले से ही होने के कारण सर्दियों में यह रूखापन और बढ़ जाता है, और उसकी वजह से त्वचा में खिंचाव महसूस होता है फिर जलन होने लगती है।

मिश्रित त्वचा :

मिश्रित त्वचा
मिश्रित त्वचा (त्वचा के प्रकार)

मिश्रित त्वचा का मतलब है, कि यह सब त्वचा के मिश्रण के तरह है। जैसे कि यह त्वचा में रूखी त्वचा तैलीय त्वचा का मिश्रण होता है। यह त्वचा वाले लोगों को सूखापन और तैलीय आवरण चेहरे पर हमेशा रहता है। इस प्रकार यह त्वचा के लोगों को दाग धब्बे और मुंहासे की समस्या ज्यादा रहती है।

मिश्रित त्वचा का आपको बहुत ज्यादा ध्यान रखना पड़ता है। इस तरह की त्वचा आपके चेहरे पर बाकी जगह पर तैलिय और बाकी जगह पर रूखापन दिखाई पड़ता है।

संवेदनशील त्वचा :

संवेदनशील त्वचा है त्वचा के प्रकार
संवेदनशील त्वचा है त्वचा के प्रकार

इस तरह की त्वचा के लोगों को अपनी त्वचा का बहुत ज्यादा प्रमाण में ध्यान रखना पड़ता है। क्योंकि यह त्वचा पर कुछ भी सौंदर्य प्रसाधन लगाने से आपको हानी पहुंच सकती हैं। या आपकी त्वचा और ज्यादा खराब हो सकती है। इस तरह की त्वचा पर धूल मिट्टी ज्यादा प्रमाण में दिखाई देती है।

अगर इसका अपने अच्छे से ध्यान नहीं रखा तो तुरंत इस पर दाग धब्बे और मुंहासे होने लगते हैं। इस तरह के पचा वाले इंसान को अपनी त्वचा की सुरक्षा धूल मिट्टी से करनी चाहिए और दिन में तीन चार बार धोनी चाहिए |

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article