पीरियड में पैरों में दर्द क्यों होता है ?

आज हम पीरियड में होने वाले दर्द के बारे में जानकारी देने वाले है |अक्सर कई महिलाओं में ऐसा पाया गया है कि, उन्हें मासिक धर्म के दौरान पैर दर्द होने की समस्या होने लगती है | पीरियड में पैरों में दर्द होने की वजह से काम करने वाली महिलाओं को बहुत पीड़ा सहनी पड़ती है और वह अपना काम ठीक से नहीं कर पाती |

कई महिलाओं में ऐसा भी आया जाता है कि उन्हें पीरियड के दौरान बस कमर दर्द की समस्या होती है, लेकिन पैरों में दर्द होने की समस्या नहीं होती |

ऐसा क्यों होता है ? क्या आपको पता है ?

पीरियड में पैर दर्द क्यों करते हैं ?

देखा जाए तो यदि किसी महिला को एंडोमेट्रियोसिस की समस्या है, तो उस महिला को अपने मासिक धर्म के शुरुआती दिनों में पैर दर्द की समस्या बहुत दिखाई दी है | एंडोमेट्रियोसिस की वजह से उन्हें पीरियड में अधिक खून निकलना और मेंस्ट्रुअल क्रैम्प्स अधिक होने की समस्या होती रहती है |

एंडोमेट्रियोसिस में महिला के गर्भाशय के ऊपर एक मोटी परत जम जाती है और इसी परत की वजह से उन्हें अक्सर पीरियड्स में अधिक खून निकलने की समस्या होती है | गर्भाशय के ऊपर ही मोटी परत बनने की वजह से महिला को अक्सर चलने में परेशानी होती है और उसे पैर दर्द की समस्या होने लगती है |

See also  मासिक धर्म के दौरान क्या सावधानियां बरतें

2016 की एक रिपोर्ट में ऐसा पाया गया कि एंडोमेट्रियोसिस ग्रसित महिलाओं मैं 50% महिलाएं ऐसी है, जिन्हें मासिक धर्म के दौरान पैरों में जोर से दर्द होने की समस्या होती है |

एंडोमेट्रियोसिस की वजह से पीरियड में ही क्यों दर्द होता है ?

यह जानने के लिए आपको सबसे पहले, पीरियड कैसे आते हैं ? इस बारे में जानकारी होना बहुत जरूरी है |

जब महिला के पीरियड आते हैं तब हर महीने उसकी गर्भाशय की ऊपरी परत खून के साथ मिलकर मासिक स्त्राव के रूप में महिलाओं के यौन अंग से बाहर निकलती है | यदि यह लाइनिंग यानी कि गर्भाशय की ऊपरी परत पतली है तो महिला के पीरियड जल्दी रुक जाते हैं, यदि यह गर्भाशय की परत का मोटापा बढ़ जाता है तो अक्सर महिलाओं को अधिक रक्तस्राव की समस्या होती रहती है |

एंडोमेट्रियोसिस में महिला के गर्भाशय के पास एक ऐसी मोटी परत जमने लगती है जो बिना किसी आकार की, या बिना किसी जगह की परवाह किए बढ़ती रहती है | यदि एंडोमेट्राइटिस मे यह परत महिला के गर्भाशय के नजदीकी जगह में होती है, तब उसे मासिक धर्म में पीड़ा होने लगती है और यह पीड़ा महिला के पेट के निचले हिस्से में ज्यादा महसूस होती है | आमतौर पर यह दर्द महिला के कुल्ले में और घुटनों में दिखाई देता है |

जानिए –

पीरियड में सिर दर्द की समस्या का इलाज कैसे करे ?

ज्यादातर महिलाओं की यह शिकायत होती है की,

पीरियड में पैरों में दर्द होने की समस्या मुझे ही क्यों होती है ?

महिलाओं को आमतौर पर यह सवाल आता है कि उनकी सहेलियों के पीरियड में उन्हें पैरों में दर्द नहीं होता है, लेकिन यह दर्द मुझे ही क्यों होता है ?

See also  क्या पीरियड में व्रत रखना चाहिए या नहीं ?

देखा जाए तो एंडोमेट्रियोसिस काम करने वाली महिलाओं में ज्यादा पाया गया है क्योंकि उनका अपना नियमित कुछ काम करने का तरीका नहीं होता | काम करने वाली महिलाओं को अपनी सेहत की तरफ ध्यान रखने के लिए समय भी नहीं मिलता है, इसलिए अक्सर १० में से १ महिला को एंडोमेट्रियोसिस की समस्या होती ही है |

पीरियड के दौरान पैरों में दर्द होने की समस्या को कम कैसे करें ?

घरेलू तरीके से यदि आप अपने पैरों में होने वाले दर्द को कम करना चाहती है, तो आपको कुछ चीजों को करना चाहिए जैसे कि –

  1. रोजाना नहाते समय अपने पैरों की गर्म पानी से और तेल से मालिश करनी चाहिए |
  2. हो सके तो आपको स्ट्रैचिंग यानी कि खिंचाव पैदा करने वाला बाबा रामदेव योग करना चाहिए |
  3. यदि आपको पैरों में दर्द अधिक महसूस हो रहा है, तो आप acetaminophen, ibuprofen, or aspirin टेबलेट को डॉक्टर की सलाह से ले सकती हो |
  4. पीरियड में पैरों में दर्द से राहत पाने के लिए आप अपने पैरों के ऊपर या अपने कुल्ले के ऊपर टाइगर बाम का इस्तेमाल कर सकती हो |
  5. जलन कम करने वाले पदार्थ जिससे कि आपको ओमेगा 3 फैटी एसिड मिलेगा, ऐसे पदार्थों का सेवन आपको अधिक मात्रा में करना चाहिए | आमतौर पर यह फलों में और हरी सब्जियों में आपको मिल जाएगा |
  6. पीरियड के दिनों में पैर के दर्द वाले हिस्से में आपको 15 मिनट के लिए बर्फ का टुकड़ा एक कपड़े में डालकर उसे अपने पैर को अच्छे से मसाज करना है |
  7. खाने में विटामिन सी युक्त विटामिन ई और विटामिन ए वाले पदार्थों का सेवन अधिक करना चाहिए |
  8. हो सके तो आपको अदरक हल्दी का सेवन इन दिनों में करना चाहिए |
See also  पीरियड्स का कम आना क्या होता है ? इसके कारण और लक्षण जानिए

तो सहेलिओ यह थी पीरियड्स में पैरो में दर्द करने की समस्या क्यों होती है और आप इसका घरेलु इलाज कैसे कर सकती हो, इस विषय की जानकारी |

यदि आपको और जानकारी चाहिए तो आप अपने सवाल निचे कमेन्ट में लिखकर हमें पूछ सकती हो |

जानिए –

पीरियड में स्तनों में दर्द होने पर क्या करे ?

Leave a Comment

error: Content is protected !!