Friday, December 9, 2022

बुखार आने पर क्या खाना चाहीये और क्या नही? Bukhar aane par kya khana chaiye

जरुर पढ़े

नमस्ते दोस्तों आप सभी का स्वागत है फ्री सिंपलीफाइड इंफॉर्मेशन वेबसाइट में आज हम जानेंगे कि बुखार आने पर क्या खाना चाहिए और क्या नहीं ! रोजमर्रा की जिंदगी में और भागदौड़ में हम खुद का ख्याल रखना भूल जाते हैं लेकिन इसके कई बार हमें गंभीर परिणाम भी भुगतने पड़ सकते हैं सामान्यतः मानवी शरीर का प्राकृतिक तापमान 37 डिग्री तक रह सकता है अगर हमारे शरीर का तापमान उससे आगे चला जाए तो हम उसे बुखार आना कह सकते हैं बुखार आने पर तुरंत डॉक्टर के पास जाए और उन दिनों में अपने खानपान का खास ध्यान रखें चलो दोस्तों तो आज जान लेते हैं बुखार आने पर क्या खाना चाहिए और बुखार आने पर हम क्या सावधानी ले सकते है।

 

Table of Contents

बुखार आने पर क्या करे : Bukhar aane par kya kare:

१. शरीर की कोल्ड पानी से स्पॉन्जिंग या गुनगुना पानी स्पॉन्गिंग करें- Thande Pani se sponging kare:

बुखार आने पर ठंडा पानी लेकर या फिर गुनगुना पानी लेकर उसमें एक साफ कपड़ा भिगोए या फिर स्पंज भिगोए उसके बाद उसको अच्छे से निचोड़ लें और अपने माथे पर रखें इससे हमारा टेंपरेचर धीरे धीरे नॉर्मल होने लगेगा

२.सामान्य या ठंडे पानी से नहा सकते हैं: Thande pani se nahaye

बॉडी का टेंपरेचर कम करने के लिए अगर हम ठंडे पानी से या फिर रूम टेंपरेचर के पानी से नहाए तो बुखार से राहत मिलती है ।

३.नियमित तौर पर टेंपरेचेर चेक करते रहे:Bukhar check kare:

बुखार आने पर उसका मूल्यमापन रखना भी जरूरी होता है इसलिए थर्मामीटर की मदद से अपना बुखार जांच करने की कोशिश करें एक्यूरेट टेंपरेचर अगर आप देखना चाहते हैं तो थर्मामीटर का ही यूज़ करें ।

४. दिन भर हाईड्रेटेड रहे: Hydrate Rahe :

कई बार ऐसा होता है कि बुखार में हमें भूख कम लगती है जिसकी वजह से डिहाइड्रेशन की तकलीफ हो सकती है इसलिए दिन भर ढेर सारा पानी या फिर तब तरल पदार्थ का सेवन करते रहे इससे आपको आराम भी मिलेगा और आप हाइड्रेटेड महसूस करेंगे ।

५.अतिरिक्त मोटे कपडे ना पेहने:Mote kapde na pehene :

जब भी आपको बुखार आता है उस वक्त शरीर का टेंपरेचर बहुत ज्यादा बढ़ जाता है ऐसे समय में अगर हम उन के या फिर भारी कपड़े पहने तो हमें और भी बुखार चढ़ सकता है इसलिए शरीर का टेंपरेचर मेंटेन करने के लिए हमें हल्के ढीले सूती कपड़े पहनने चाहिए जो हमारे शरीर के तापमान को नियंत्रण में रखेंगे।

 

बुखार आने पर क्या ना करे: Bukhar aane par kya na kare:

१. शरीर को कंबल से कव्हर ना करे: Body Ko kambal se na dhake:

शरीर का तापमान नियंत्रित रखने के लिए हमें शरीर को ज्यादा से ज्यादा हाइड्रेटेड और हवा में रखना चाहिए जैसे कि कुछ लोगों को आदत होती है बुखार आने पर वह खुद को कंबल से पूरा ढक लेते हैं जिससे बुखार कम नहीं होता बल्कि शरीर का तापमान और बढ़ जाता है.

२. बुखार में खुद को भूखा ना रखें: Bhuka na rahe :

बुखार आने पर हमारा शरीर बहुत कमजोर पड़ जाता है इसलिए ज्यादा से ज्यादा पेट को भरा रखें भूखे पेट रहने से संक्रमण बढ़ने की संभावना होती है अगर पेट भरा रहे तो हमें अच्छा महसूस होगा इसलिए खुद को भूखा ना रखें .

 

डॉक्टर के पास कब जाना होता है:Doctor ke pas kab jana chaiye:

अगर आपको सामान्य बुखार है तो घरेलू उपचार लेकर 1 से 2 दिन तक आप इंतजार कर सकते हैं अगर फिर भी आपको अच्छा ना लगे या फिर बुखार दो-तीन दिन बाद भी ठीक ना हो और 104 डिग्री से ज्यादा आप का बुखार हो रहा है तो अवश्य डॉक्टर की सलाह लें अगर आपको बुखार के साथ-साथ सिर दर्द उल्टी पेट में दर्द सांस लेने में तकलीफ हो रही है तो जल्द से जल्द डॉक्टर के पास जाइए ।

डॉक्टर आप का इलाज करके आपको सही तरीके से दवाई देंगे डॉक्टर ने दिए हुए परामर्श को ध्यान से फॉलो करें जिससे आपको आगे जाकर कोई बड़ी तकलीफ ना हो और विशेषता है खान-पान पर ध्यान रखें क्योंकि हम कैसा खाना खाते हैं इस पर हमारी ऊर्जा निर्धारित है और बुखार से लड़ने में हमें ताकत भी मिल सकती है।

 

बुखार आने पर क्या खाये क्या नही: Bukhar aane par kya Khaye:

बुखार आने पर सबसे पहले तो हमें ज्यादा भूख नहीं लगती लेकिन हमें अगर शरीर में उर्जा चाहिए और जल्द से जल्द बुखार कम हो जाए ऐसा लगता है तो संतुलित आहार लेना बहुत जरूरी है क्योंकि कुछ खाद्य पदार्थ ऐसे होते हैं जो आपको बेहतर महसूस करने में मदद करते हैं और अपने शरीर को हडेटिड रखते हैं और लंबे समय के बुखार से हमें अधिक तेजी से ठीक होने में मदद कर सकते हैं हैं।

जब आप बीमार हो और आपको बुखार हो उस समय नीचे दिए गए पदार्थों का सेवन करें जिससे आपको ऊर्जा मिलेंगी और आप जल्द से जल्द ठीक हो जाएंगे ।

१ चिकन सूप का सेवन करें: Chicken Soup ka sevan kare:

पुराने जमाने से चिकन सूप को ऊर्जा से भरपूर माना जाता है चिकन में प्रोटीन की मात्रा भरपूर होती है जो हमारे शरीर को संतुलित और स्वस्थ रखने में मदद करती है चिकन में विटामिन गैलरी प्रोटीन खनिज ऐसे स्त्रोत होते हैं ऐसे पोषक तत्व आपके शरीर को तंदुरुस्त बनाया रखते हैं और ऊर्जा की उत्पत्ति करते है। अगर हम चिकन का सूप बनाए तो इससे हमें अमीनो एसिड सिस्टीन जैसे घटक भी मिल सकते हैं जिससे हमारे शरीर में अगर बलगम हो या बैक्टीरिया हो तो उन पर यह एंटी इन्फ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट और एंटीबैक्टीरियल जैसा प्रभाव करता है जिससे हम हल्का महसूस करते हैं और बुखार भी कम होने लगता है . इसलिए जब भी आपको बुखार हो चिकन सूप का सेवन जरूर करें आप अच्छा महसूस करेंगे

२.लहसुन: Lehsun ka sevan kare:

बुखार होने के बहुत से कारण हो सकते हैं जैसे कि जुकाम या फिर ज्यादा सर्दी इत्यादि अगर आप अपने शरीर का तापमान नियंत्रण में रखें तो आप ऐसी बीमारियों से बच सकते हैं लहसुन तो आप सब लोग जानते ही होंगे पुराने जमाने से लहसुन के स्वास्थ्य के ऊपर अच्छे असर के बहुत से दावे किए गए हैं लहसुन आपको अच्छा स्वास्थ्य प्रदान करता है सर्दियों में तो हर्बल दवा में लहसुन का इस्तेमाल किया ही जाता है।

लहसुन में जीवाणु रोधी एंटी फंगल एंटी वायरल जैसे रोगों से लड़ने की ताकत होती है इसलिए खाने में लहसुन का उपयोग करें लहसुन से खाने का स्वाद तो बढ़ेगा ही ऊपर से आपको अच्छा स्वास्थ्य प्रदान होगा अगर आप फ्लू जैसे किसी बीमारी के लक्षण से लड़ रहे हैं और आपको बहुत ज्यादा बुखार है तो लहसुन उस पर प्रभावशाली हो सकता है इसलिए नियमित रूप के भोजन में भी लहसुन का सेवन अवश्य करना चाहिए ।

३.नारियल पानी का सेवन करें: Coconut water piye:

नारियल पानी तो सभी को पसंद होता है लेकिन आप अगर अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में नारियल पानी पीते रहे तो आपको इलेक्ट्रोलाइट जैसे गुण बिना डॉक्टर के पास जाए मिल सकते हैं जब आप बीमार हो और आपको ज्यादा भूख नहीं लग रही हो तो तब आप नारियल पानी का सेवन कर सकते हैं नारियल पानी इलेक्ट्रोलाइट से समृद्ध है जिससे उल्टी दस्त होना पसीना आना ऐसे परेशानियों से राहत मिल सकती है और आप तरल महसूस कर सकते है।

नारियल एक ऐसा फल है जो आपके शरीर की ऊर्जा को जल्द से जल्द बढ़ा सकता है यह ऊर्जा बढ़ाने का सबसे अच्छा और लाभदाई स्त्रोत है

४.शहद का इस्तेमाल करें: Honey Ka istemal kare:

चाहत में तो बहुत सारे जीवाणु रोधी गुण होते हैं शहद को तो हम एंटीसेप्टिक जैसे घाव भरने वाले ड्रेसिंग के रूप में भी इस्तेमाल कर सकते हैं शायद हमारे शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को भी बढ़ावा देता है अगर हमें मौसमी एलर्जी हो रही है और उसमें हमें बुखार आ रहा है तो कच्चे शहद का इस्तेमाल करें इससे आपको राहत मिलेगी और आपकी भूख भी बढ़ेंगे

५.अदरक का इस्तेमाल करें:Adrak ka istemal kare:

आयुर्वेद में अदरक का बहुत सारा महत्व दिया हुआ है बहुत सारी हर्बल दवाइयों में और घरेलू उपचार में अदरक का इस्तेमाल किया जाता है अदरक एक एंटीबैक्टीरियल जैसे काम करता है अदरक के इस्तेमाल से हम सर्दी जुकाम जैसे रोगों से दूर रह सकते हैं अगर आपका बुखार में जी मचल रहा हो या उल्टी करने जैसा लग रहा हो तो अदरक का इस्तेमाल करें आपको राहत मिलेगी प्राकृतिक रूप से अदरक सारी दवाइयों में सर्वोत्तम उपाय माना जाता है तो बुखार आने पर जरूर अदरक का इस्तेमाल करें।

६.केले का इस्तेमाल करें:Kele ka sevan kare:

केला सेवन में बहुत नरम होता है पोषक तत्वों से भरपूर होता है और इसमें होने वाले कार हमें तेजी से ऊर्जा देते हैं केले को बीमार व्यक्ति के लिए एक बेहतरीन भोजन माना गया है केले में मौजूद इलेक्ट्रोलाइट और पोटैशियम शरीर की ऊर्जा को जल्द से रिस्टोर करता है और हमें तरल महसूस होता है और केले का बहुत बड़ा फायदा यह है कि उसमें घुलनशील फाइबर होता है जिससे हम अगर पानी का सेवन कम भी करें तो भी हम हाइड्रेटेड रहते हैं जैसे कि अगर हमे डायरिया या उल्टी हो रही हो तो हम डिहाइड्रेटेड महसूस नहीं करते और यह हमें ऊर्जा देने में मदद करता है। तो आप भी बुखार आने पर केले का सेवन जरूर करें

७.दही का इस्तेमाल करें: Dahi ka sevan kare:

आप सब लोग जानते हैं कि दही के सेवन से शरीर का दाह कम होता है शरीर में उत्पन्न ना होने वाला है फिर भी कम होता है इसलिए बुखार आने पर दही का सेवन करना बहुत ज्यादा फायदेमंद हो सकता है जैसे कि दही में फायदेमंद प्रोबायोटिक्स होते हैं जो बाकी के बैक्टीरिया के उत्पन्न नको संतुलित करते हैं और स्वास्थ्य प्रदान करते हैं दही में उपस्थित होने वाले प्रोबायोटिक वयस्कों और बच्चों में होने वाली सर्दी बुखार को कम करते हैं किससे बीमारी से वह जल्द ही ठीक हो सकते हैं इसलिए अगर हम दही का सेवन रोज के आहार में भी करें तो भी फायदेमंद हो सकता हैं।

तो दोस्तों आज हमने बुखार के लिये उपाय ओर बूखार मे खाने मे क्या खाना चाहिए ये देखा. आशा करते हैं कि आपको इस जानकारी का फायदा होगा अगर आप अधिक जानकारी जानना चाहते हैं या फिर आपके पास और कोई सुझाव है तो कमेंट करना ना भूले .

धन्यवाद

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article