Wednesday, September 28, 2022

सांस लेने में तकलीफ होना? Breathing Problem

जरुर पढ़े

नमस्कार ,दोस्तो आपका स्वागत है, फ्री सिंपलीफाइड इंफॉर्मेशन के वेबसाइट पर |आज का हमारा विषय है ,सांस लेने में तकलीफ होना ? उसके घरेलू उपाय कौन से हैं ? इसकी जानकारी लेने वाले हैं |सांस की समस्या कई वजह से होती है | जैसे दौड़ लगाना, ज्यादा सीढ़ी चढ़ना, या किसी पहाड़ पर चढ़ना, इसमें कई बार शरीर में ऑक्सीजन की कमी होती है | इसके वजह से सांस लेने में तकलीफ होती है | अगर आप को सांस लेने में तकलीफ होती है, तो आप पहले डॉक्टर से इसकी जांच कराएं ताकि आपको अपनी बीमारी का पता चल सकता है | तो आओ दोस्तों ,सांस लेने में तकलीफ क्यों होती इसकी जानकारी लेते हैं |

सांस लेने में तकलीफ होने के कौन से कारण है? Breathing Problem :

यह आम समस्या है |सांस लेने में तकलीफ होती है आप अगर ज्यादा तेज से चलना ,दौड लगाना ,इसमें भी सांस लेने में तकलीफ होती है \सीढ़ियां चढ़कर जाना, ऊंची पहाड़ पर चढ़ाई करना ,इससे भी तकलीफ होती है |इस समस्या का अलग-अलग कारण है |अगर आपको सर्दी जुकाम हो तो तब भी आपको सांस लेने में तकलीफ होती है | किसी को ह्रदय रोग होता है, किसी को अस्थमा होता है, इसके कारण भी सांस लेने को तकलीफ होती है | दोस्तों देखते हैं कि ,सांस लेते समय तकलीफ होती है उसके कारण क्या है ?

  • ऑक्सीजन कम होने पर सांस लेने में तकलीफ होती है |
  • ज्यादा तेज दौड़ लगाने से या तेज चलने से |
  • अस्थमा के कारण |
  • हृदय रोग के कारण |
  • शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा कम होने के कारण |
  • बहुत समय से खांसी होने के कारण |
  • वजन ज्यादा होने के कारण |
  • तनाव के कारण |
  • जब कोई व्यक्ति अधिक धूए में सांस लेता है तभी सांस लेने में तकलीफ होती है |
  • थकान के कारण |
  • सांस लेते समय बहुत तेज आवाज आना |

सांस लेते समय तकलीफ हो रही है कैसे जाने? Breathing Problem Kaise Jane :

यह  एक आम समस्या है | आपकी सांस अचानक से तेज चलने लगती है ,तो आप को सांस लेने तकलीफ होती है | आपकी हार्ट बीटस बढतेहैं |तभी सांस लेने में तकलीफ होती है |आप का रक्तचाप ब्लड प्रेशर बढ़ने के कारण या कम होने के कारण आपको सांस लेने में तकलीफ हो सकती हैं | बार-बार थकान आना ,सांस फूल जाना ,इससे आप को सांस लेने के समय तकलीफ होती है|

सांस लेते वक्त तकलीफ होने पर घरेलू उपाय कौन से हैं? Breathing Problem Gharelu Upay :

सांस लेने में तकलीफ की समस्या का इलाज इसके कारण पर निर्भर होते हैं | आपके आहार में बदलाव करने से भी सांस की परेशानी कम कर सकते हैं खाना खाते समय आप आराम से और धीरे-धीरे खाना चाहिए | प्रदूषित वातावरण में नहीं जाना चाहिए, अपने लाईफ स्टाईल में बदलाव करें |

कॉफी: Coffee Ka Istemal :

सांस लेने में तकलीफ से बचने के लिए कॉफी फायदेमंद है | कॉफी इंसान को चुस्त रखती है, जिससे इंसान तरोताजा महसूस करता है |

अदरक: Ginger Ka Istemal :

सांस की नली से होने वाले इंफेक्शन से बचाव करता है | सांस लेने से भी राहत मिलती है; अदरक मे कई प्रकार के प्राकृतिक गुण होते जिसकी वजह से बैक्टिरीअल, वाइरल किटाणु से बचनेमे मदद मिलती है |

सांस लेने में तकलीफ होने पर कौन से योगासन करें? Breathing Problem Yogasan :

जैसे की हमने ऊपर की जानकारी मे घरेलू उपाय के बारे मे पढ़ा ठीक उसी प्रकार से अब हम किन प्रकार के योगासन करणे से सांस लेने में तकलीफ से आप छुटकारा पा सकते है |

दंडासन: Dandasan

इसके जरिए हम अपने फेफड़ों से जुड़ी समस्या ठीक कर  सकते हैं | इस योगासन को सुबह और शाम दोनों समय पर करें | यह आसन खाली पेट करें |उच्च रक्तचाप के रोगी योगासन ना करें | दंडासन यह बैठकर किया जाने वाला आसन है जिसमें आपको दोनों पैरों को सीधे रखना होता है और दोनों हाथों के मदद से शरीर को ऊपर उठाना होता है| इस आसन से आपकी मांसपेशियों में लचीलापन आता है और मोटापे से राहत पाकर आपका ह्रदय स्वस्थ और सेहतमंद रहने में मदद होती है |

भुजंगासन: Bhujangasan :

भुजंगासन करने से ब्लड सरकुलेशन अच्छे स्वरूप से होता है | इसके साथ ही इस आसन को नियमित करने से फेफड़ों स्वस्थ होते हैं| इस आसन में आपको पेट के बल लेट कर कमर के ऊपर का हिस्सा आपको पूरी तरह से ऊपर उठाना होता है | जिसमें आपकी रीड की हड्डी  गोलाकार आकार में आती है इससे आपकी मांसपेशियां लचीली होती है और ब्लड सरकुलेशन अच्छे से होता है जिससे आपका दिल तंदुरुस्त रहता है |

कपाल-भाती: Kapal-Bhati Pranayam :

इस आसन से भी आप को होने वाली सांस की तकलीफ से राहत मिलेगी | इस आसन को नाक के जरिए किया जाता है | जिसमें आपको एक एक करके दोनों नाक से धीरे-धीरे सांस अंदर बाहर करना होता है इससे फेफड़ों की सांस लेने की क्षमता बढ़ती है जिससे फेफड़ों की सांस लेने की समस्या दूर हो जाती है |

शलभासन: Shalbhasan :

इस आसन को नियमित करने से फेफड़े स्वस्थ रहते हैं | इसके साथ ही शरीर लचीला होता है | इस योगासन में आपको पेट के बल  लेट कर अपने दोनों पैरों को 45 डिग्री में उठाए रखना होता है | इससे आपकी पेट की बीमारी और फेफड़ों की बीमारी दूर होती है |

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

error: Content is protected !!