Monday, August 15, 2022

बच्चों को दूध पिलाते समय हमें कौन-कौन सी सावधानी बरतनी चाहिए 

जरुर पढ़े

नमस्ते, आज हम जानेगे बच्चों को दूध पिलाते समय हमें कौन-कौन सी सावधानी बरतनी चाहिए. हमें बच्चों के शरीर के अच्छे से देखभाल करनी चाहिए बच्चों के शरीर का स्वास्थ्य अच्छा रहे हैं. इसलिए हम सब अलग-अलग प्रकार की कोशिश करते हैं. लेकिन कई बार अलग-अलग वजह से हमें बच्चों के शरीर के संबंधित ऐसे कई प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ सकता है जिसकी वजह से हमें बहुत ही कठिनाई भी निर्माण हो सकती है.

बच्चों के शरीर के लिए और अच्छे स्वास्थ्य के लिए अच्छे पोषण आहार का सेवन करना बहुत जरूरी होता है. बच्चे को अच्छा पोषण मां के दूध से मिलता है. जिससे बच्चों के शरीर को इसके बच्चों के शरीर को अलग-अलग प्रकार के फायदे हो सकते हैं और बच्चों के शरीर के संबंधित कई समस्या दूर होने के लिए भी मां का दूध हमें मदद कर सकता है.

लेकिन कई बार बच्चों को मां का दूध पिलाते समय हमें बहुत सी चीजों को ध्यान में रखना चाहिए जिससे बच्चों के शरीर के संबंधित कई समस्या से हमारा बच्चा हो सकता है. बच्चों को दूध पिलाते समय हमें अलग-अलग चीजों की सावधानी बरतनी चाहिए क्योंकि कई बार सावधानी न बरतने की वजह से बच्चों के शरीर के संबंधित कई प्रकार की समस्या निर्माण हो सकती है.

तो दोस्तों आज हम देखेंगे बच्चों को दूध पिलाते समय हमें कौन-कौन सी अलग-अलग चीजों की सावधानी बरतनी चाहिए जिससे बच्चों के शरीर के संबंधित कई समस्या दूर होने के लिए हमें मदद मिल सकती है ? चलो तो फिर देखते हैं !

बच्चों को ज्यादा समय हमें कौन-कौन सी चीजों की खास सावधानी बरतनी चाहिए :

  • बच्चों को बोतल से दूध पिलाते समय बच्चों के सिर के नीचे तकिया रखें :-

कई बार बच्चों को दूध पिलाते समय अलग अलग चीजों की अच्छे से सावधानी न बरतने की वजह से हमें बच्चों के शरीर के संबंधित कई प्रकार के समस्याओं ने निर्माण हो सकती है. जिसकी वजह से हमें बहुत सी परेशानियां भी निर्माण होती है. बालक को अगर आप बोतल से दूध पिला रहे हैं. तो इस बात की ज्यादा से ज्यादा सावधानी बरतनी चाहिए कि बालक को बोतल से दूध पिलाते समय बच्चों के सिर के नीचे तकिया रखें.

बच्चे बोतल से दूध पीते समय बच्चों के सिर के नीचे तकिया ना रखने की वजह से उनके सिर में रक्त का प्रभाव ज्यादा बढ़ जाता है. जिसकी वजह से बच्चों के शरीर के संबंधित कई प्रकार के समस्याओं ने निर्माण हो सकती है. इसलिए हमें बालक को बदल से दूध पिला दे समय बच्चों के सिर के नीचे हमेशा तकिया रखें जिससे बच्चों के शरीर में रक्त का प्रभाव अच्छे से संतुलित रहने के लिए मदद मिल सकती है.

  • बच्चों को दूध पिलाने के बाद एकदम से बिस्तर पर लेटाना नहीं चाहिए :-

कई बार बच्चे को दूध पिलाने के बाद बहुत सी माता है बालक को एकदम से बिस्तर पर लेटा देती है. लेकिन इसकी वजह से बालक को अलग-अलग चीजों का सामना भी करना पड़ सकता है. और दूध अच्छे से पाचान नहीं हो पाता. हमें हमेशा इस बात का खासतौर पर ध्यान रखना चाहिए, कि बालक को दूध पिलाने के बाद उन्हें बिस्तर पर एकदम से लेटा देना नहीं चाहिए. अगर हमने ऐसा किया तो बच्चा दूध को उल्टी से बाहर निकल सकता है,और बच्चे के शरीर में दूध अच्छे से पाचन नहीं हो पाता.

हमेशा दूध पिलाने के बाद हमें बालक की पीठ पर धीरे-धीरे हाथों से थपकी या देनी चाहिए. जिससे बालक को दूध अच्छे से पाचन होने के लिए मदद मिल सकती है. और जब तक बालक कोअच्छे से डकार ना आ जाए तब तक हमें बच्चों को एकदम से बिस्तर पर लेट आना नहीं चाहिए. इसलिए आपको यह बात ही अच्छे से सावधानी बरतनी चाहिए.

  • ब्रेस्ट को साफ किए बिना शिशु को दूध ना पिलाए :-

बच्चे को दूध पिलाने ऐसा मैं आपको इस बात का अच्छे से ध्यान रखना होगा कि, जब भी आप बालक को ब्रेस्टफीडिंग करने जाए तो पहले आप ब्रेस्ट को अच्छी तरह से साफ कर ले. उसके बाद ही शिशु को दूध पिलाएं और भेज को साफ किए बिना शिशु को दूध कभी मत पिलाए. पेशाब नगर के शिशु को दूध पिलाने की वजह से बच्चों का पेट खराब होने की संभावना होती है. और जिससे बच्चा बीमार भी हो सकता है इसलिए आप किस बात को खास ध्यान देते हुए इस बात की अच्छी सी सावधानी बरतनी चाहिए.

ऊपर हमने बताए हुए यह अलग-अलग घरेलू उपाय या फिर घरेलू नुस्खे का इस्तेमाल आपको करना जरूरी है. जिसके कारण आपको फायदे भी हो सकते हैं. तो दोस्तों आज हमने देखा बच्चों को दूध पिलाते समय हमें कौन-कौन सी अलग-अलग चीजों की सावधानी बरतनी चाहिए जिससे बच्चों के शरीर के संबंधित कई समस्या दूर होने के लिए हमें मदद मिल सकती है ? उसके साथ साथ ऐसी समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप डॉक्टर की सलाह भी ले सकते है। अगर आपको इस समस्या से लेकर और कोई दिक्कत या फिर कोई सलाह की जरूरत है. तो फिर आप कमेंट करके बता सकते हैं. और इस जानकारी को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक शेयर करें और पहुंचाने की कोशिश करें.

 

धन्यवाद् !

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article

error: Content is protected !!