Saturday, December 10, 2022

सीने में दर्द होना? Chest Pain?

जरुर पढ़े

नमस्कार दोस्तों स्वागत है, आपका हमारे फ्री सिंपलीफाइड इंफॉर्मेशन की वेबसाइट पर जहां पर हमारा आज का टॉपिक है। सीने में दर्द होना?आज के भागदौड़ भरे जमाने मे दोस्तो लोग सेहत का खयाल नही रख पाते है। जिसका परिणाम स्वरूप इंसानो को अस्पताल का चक्कर काट काटकर भुगतना पड़ रहा है। 

दोस्तो सीने में दर्द होना? छाती में दर्द होना यह बीमारी आज के 10 में से 7 लोगो को होती ही है। इनमे युवा वर्ग अधिकतम दिखाई देता है, और छाती में दर्द होकर हार्ट अटैक से कई लोग मर रहे है। यानी कि मृत्यु दर देखा जाए तो हार्ट अटैक आकर ज्यादा मरने वाले लोगो की तादात बढ़ती जा रही है। तो आज हम इसी गंभीर समस्या पर चर्चा करने वाले है, जैसे कि सीने में दर्द होना? क्यों होता है, किन कारणों की वजह से छाती में दर्द होता है, छाती में दर्द होने पर क्या करे किस प्रकार के उपाय आजमाकर छाती के दर्द से छुटकारा ला सकते है, इत्यादि विषयो पर हम आपको जानकारी देने वाले है। तो आइए आगे की जानकारी में देखते है, छाती में दर्द क्यों होता है? या फिर छाती में दर्द कैसे होता है।

छाती में दर्द कैसे होता है? chest pain kaise hota hai?

दोस्तों छाती में दर्द होने के कई प्रकार के कारण है, जिनके बारे में हम आपको बताने वाले हैं कि छाती में क्यों और किस प्रकार से पेन होता है, दवाई है, सबसे पहला कारण देखते हैं

अधिक तनाव करने की वजह से आपको छाती में पेन होता है; जैसे कि अगर आप अधिक समय तक किसी चीज के बारे में चिंता करते रहते हैं यानी कि हर वक्त आप अगर चिंता में डूबे रहते हैं, तो ऐसे में आपका माइंड नेगेटिव केमिकल जनरेट करके उनको शरीर के भीतर कहलाता है जिसकी वजह से आपके शरीर की कोशिकाओं में ब्लड की गांठ तैयार हो जाती है और ब्लड सरकुलेशन करने में दिक्कत लाती है, ऐसे में ठीक तरह से ब्लड का सरकुलेशन ना हो पाने पर छाती में दर्द होता है या फिर आप को हार्ट अटैक भी आ सकता है|

दूसरा कारण है, एसिडिटी दोस्तों एसिडिटी यह पेट का पाचन तंत्र खराब होने की वजह से होती है और उसकी वजह से आपको छाती में जलन महसूस होती है| और परिणाम स्वरूप आपके छाती में दर्द होता है, जो की ज्यादा चिंता करने वाली बात नहीं है लेकिन आपको डॉक्टर से सलाह लेना जरूरी होता है|

  • अगर किसी कारणों की वजह से आपके चाची के इर्द-गिर्द की कोशिकाओं में सूजन हो तो उसके वजह से भी आपके शादी में दर्द होता है|
  • अगर आपको लिंफ नोड की बीमारी हो यानी कि बगल में इनकी कांटे तैयार हो जाती है और वह दर्द करती है जिसका रिएक्शन आंख के छाती में भी होता है और आपकी छाती में दर्द होना शुरू हो जाता है|
  • अधिक हवेली चीजें खाने की वजह से आपके शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ जाती है जो आपको छाती में दर्द होने का एक बड़ा कारण होता है|
  • अगर आप शारीरिक रूप से मोटापा की ओर बढ़ रहे हैं यानी कि आपका वजन अधिक है तो आपको छाती में दर्द होता है|
  • किसी कारण आपके शादी के इर्द-गिर्द वाली हड्डी अगर टूटी हुई हो यानी कि राज्य हो तो आपकी छाती में दर्द होता है|
  • ट्यूबरकुलोसिस बीमारी के कारण भी छाती में दर्द होता है|
  • किसी कारणवश आपके फेफड़ों में अगर किसी प्रकार की एलर्जी या इंफेक्शन हुआ हो तो आपकी छाती में दर्द होता है|
  • हाल ही में आई हुई नई बीमारी है जो कि कोरोना है तो कोरोना के संक्रमण से भी आपको छाती में दर्द होता है|
  • न्यूमोनिया बीमारी के वजह से भी छाती में थोड़ी बहुत मात्रा में आपको दर्द महसूस होता है|
  • माइनर हार्ट अटैक आने की वजह से भी छाती में दर्द होना स्वाभाविक है|
  • अगर आपका एनजीओ प्लास्टि का ऑपरेशन हुआ हो एनजीओ प्लास्टि यह ऑपरेशन चाहती की कोशिकाओं में होने वाले ब्लॉकेज को निकालने के लिए की जाने वाली प्रक्रिया होती है अगर किसी भी इंसान का इस प्रकार का ऑपरेशन हुआ है तो उस आदमी को छाती में दर्द हो सकता है|
  • सीने में दर्द यहां कफ, सर्दी, ज़ुकाम होने के कारण भी हो सकता है|

तो दोस्तों इत्यादि कारणों की वजह से आपके छाती में अगर दर्द होता हो तो आपने निजी डॉक्टर की सलाह अनुसार दवाइयों का सेवन करके अपने साथी का इलाज करवाना अधिक महत्वपूर्ण होता है|

छाती में दर्द है यह कैसे पता करें? Chest pain ka kaise pta kare?

दोस्तों जब भी सीने में दर्द होता है, तो उस वक्त या तो सबसे पहले सीने में जलन महसूस होती है, या फिर किसी भी एक साइड में छाती में दर्द होता है; जैसे कि आपको कोई छाती में अंदर की ओर से सुई चुभा रहा हो ऐसा अगर आपको महसूस होता हो तो यह आपका छाती का दर्द होता है।

जब सीने में दर्द होता है, तो उस वक्त या तो आपको लेफ्ट साइड में दर्द होता है, या राइट साइड में यहां से छाती के मध्य भाग में भी आपको दर्द हो सकता है, रुक रुक के छाती में सुई चुभने जैसा एहसास होता है, तो यह भी छाती का दर्द माना जाता है| आप को सांस लेने में परेशानी हो रही है, तो इसका यही मतलब है कि आपके सीने दर्द हो सकता है|

सीने में दर्द होने पर क्या करें? Chest pain hone par kya kare?

दोस्तों सीने में दर्द होना? जब भी आपको ऐसा महसूस हो, तो इसके पीछे का कारण सबसे पहले जान ले अगर आप इस कारण का पता ना लगा पाए तो आप हैं आप के निजी डॉक्टर से जांच पड़ताल करके डॉक्टर की सलाह अनुसार उन कारणों की जानकारी प्राप्त करना बहुत जरूरी होता है, यहां हम इसीलिए बता रहे हैं, कि चलते दिनों छाती में मामूली दर्द होने के कारण भी हार्ट अटैक आने की वजह है,अधिक लोगों की जान जा रही है जिनमें युवाओं की तादाद ज्यादा है|

छाती में दर्द होने पर अपने छाती का सिटी स्कैन करवाएं जिससे आपको पता चल सकता है, कि इस कारणों की वजह से आपके छाती में दर्द हो रहा है|

सीने में दर्द होने पर आप उसका पता करने के लिए इसीजी भी कर सकते हैं जोकि सीने की धड़कन नापने की प्रक्रिया होती है|

निम का पत्ता चबाये: Neem ka patta khaye:

रोजाना सुबह उठने के बाद नीम का पत्ता चबाने की वजह से आपके शरीर हमेशा शुद्ध रहता है और आपके खून को फिल्टर करता है|

गहरी सांस ले और छोड़े: Breathing practice:

अगर आपके सीने का दर्द यह हो नॉर्मल हो तो आप एक जगह बैठ कर अपनी सांसों को धीरे धीरे अंदर और बाहर करें जिससे अगर किसी कारण आपके छाती में छोटा-मोटा दर्द हो रहा हो तो बहुत दूर हो जाता है|

योगसाधना है रामबाण उपाय: Do Yogasan:

रोजाना योग साधना करें और मेडिटेशन करें जिसकी वजह से आपके शारीरिक हार्मोन और बैलेंस रहते हैं और शरीर में किसी भी चीज की कमी नहीं होती है

चिंता न करे: Tension Na le

ज्यादा तनाव और चिंता करना छोड़ दें जो कि शरीर में नेगेटिव विचार पैदा करता है और शरीर को अंदर ही अंदर से खोखला बना देता है|

भुना हुआ लहसुन: Lehsun ka istemal:

सीने में दर्द होने पर भुने हुए लहसुन का एक टुकड़ा कमाल है या फिर लहसुन की पेस्ट बनाकर उसे गुनगुने पानी में मिलाकर पानी को पिए|

अदरक की चाय: Gralic Tea :

अगर खाना ठीक तरह से हजम ना होने की वजह से आपके छाती में दर्द हो रहा हो तो आप अदरक की चाय पी सकते हैं या फिर ग्रीन टी वी पी सकते हैं, जिससे आपके शादी में आपको हल्का पन महसूस होता है|

हल्दी का इस्तेमाल: Turmeric Powder:

दोस्तों हल्दी में कई प्रकार के आयुर्वेदिक गुणधर्म होते हैं, जो आपकी छाती के दर्द पर आसानी से इलाज करते हैं,  हल्दी में करक्यूमिन कोलेस्ट्रॉल ऑक्सीडेशन नाम का गुण होता है जो आपके कोशिकाओं में होने वाली खून की गांठ को दूर करता है|

छाती में दर्द होने पर तुलसी का पत्ता चबाये: Tulsi patta: 

दोस्तों तुलसी का पत्ता यहां बहुत ही हो युक्त होता है, जो हमारे शरीर को शुद्ध करने में मदद करता है, तुलसी में होने वाले मैग्नीशियम की वजह से हमारा ब्लड सरकुलेशन तेजी से होता है और तुलसी में एंटीऑक्सीडेंट गुण की वजह से हमारी कोशिकाओं का कोलेस्ट्रॉल कम रहता है जो साथी के दर्द से राहत पाने में काफी मदद करते हैं|

मेथी के दाने का इस्तेमाल: Fenugreek seeds:

दोस्तों में भी हो शरीर को अंदर से मजबूत बनाने में काफी मदद करती है और इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो शरीर के कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम रखता है अगर आप मेथी के दाने पीसकर उसे शहद और पानी में मिलाकर पीते हैं, तो आपको सीने के दर्द से राहत मिलने में मदद होती है|

तो दोस्तों इस प्रकार के घरेलू उपाय और आसानी से किए जाने वाले उपाय आजमाकर आप आपके छाती के दर्द से राहत पा सकते हैं| जो आपको स्वस्थ जीवन जीने में काफी फायदेमंद साबित होता है। और हम आपको फिर से यही बात सूचित करते हैं, अगर आप के छाती का दर्द अधिक समय के लिए रहता है, तो आपने जब से ज्यादा आपके निजी डॉक्टर से जांच पड़ताल करके डॉक्टर की सलाह अनुसार दवाइयों का सेवन करके छाती के दर्द का इलाज करवाना जरूरी और महत्वपूर्ण है। धन्यवाद।

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article